JANTA KI PUKAR

बदायूँ : 21 जनवरी। उपायुक्त उद्योग जिला उद्योग प्रोत्साहन तथा उद्यमिता विकास केन्द्र बदायूँ अशोक कुमार उपाध्याय ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्ष 1980 में जनपद बदायूँ में स्थापित  एक औद्योगिक आस्थान, सालारपुर एवं चार मिनी औद्योगिक आस्थान जैसे उझानी, सहसवान, इस्लामनगर एवं बिसौली जनपद बदायूँ में स्थापित हुये थे।उन्होंने बताया कि इन औद्योगिक आस्थानों में मूलभूत सुविधायें, जैसे- सड़क, नाली, पुलिया, बिजली के खम्भे इत्यादि न होने के कारण न ही औद्योगिक आस्थानों में उद्योग स्थापित हो रहे थे और न ही उद्यमी उद्योग लगाने के लिये इच्छुक थे, परन्तु जिलाधिकारी द्वारा जनपद के विकास हेतु उद्यमियों को उद्योग लगाने हेतु प्रेरित किया गया तथा औद्योगिक आस्थान व मिनी औद्योगिक आस्थानों का विजिट किया गया

उन्होंने बताया कि सभी आस्थानों में मूलभूत सुविधायें उपलब्ध कराने हेतु मिनी औद्योगिक आस्थान उझानी, सहसवान, इस्लामनगर व बिसौली के स्टीमेट यू०पी०एस०आई०सी० कानपुर से तैयार कराकर आयुक्त एवं निदेशक उद्योग, कानपुर की माह अगस्त 2023 में प्रेषित कराये गये थे जो जिलाधिकारी के अथक प्रयास से स्वीकृत हो गये है। चारों मिनी औद्योगिक आस्थानों का टैन्डर यू०पी०एस०आई०सी० कानपुर द्वारा किया गया है जो 10 फरवरी, 2024 तक सारी प्रकिया पूर्ण होने के उपरान्त कार्य शुरू हो जायेगा।
उन्होंने बताया कि औद्योगिक आस्थान, सालारपुर बदायूँ का स्टीमेट 475.56 लाख का स्वीकृत हो गया था जिसका कार्य शुरू हो गया हैं। औद्योगिक आस्थान, सालारपुर बदायूँ का कार्य एम०एस०ई० सी०डी०पी० योजनान्तर्गत हो रहा है। औद्योगिक आस्थान, सालारपुर में पीछे की बाउण्ड्री बाल का कार्य कराने के लिये बाउण्ड्री का स्टीमेट आयुक्त एवं निदेशक उद्योग औद्योगिक आस्थान अनुभाग-11 को माह जून में प्रेषित किया गया है। जिसके स्वीकृत कराने की कार्यवाही की जा रही है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *