JANTA KI PUKAR

योध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के साथ ही दिल्ली में तीन दिवसीय रामलीला का भी सोमवार को समापन हो गया. दिल्ली की केजरीवाल सरकार द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में दिल्लीवासियों को भगवान श्रीराम के जीवन को करीब से जानने का मौका मिला. सीएम ने दिल्ली के बुजुर्गों से अपील की है कि वे तीर्थयात्रा योजना का लाभ उठाएं.अयोध्या नगरी में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के दिन दिल्ली भी राममय हो गई. आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में जगह-जगह सुंदरकांड, भंडारा, शोभायात्रा, आरती समेत कई आयोजन किये. आप के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने निर्वाचन क्षेत्र नई दिल्ली में पूजा अर्चना की और दिल्लीवासियों की सुख-शांति, समृद्धि और विकास की कामना की. इस दौरान सीएम ने आरके आश्रम मार्ग स्थित अल्बर्ट स्क्वायर में रामलला की मूर्ति स्थापना भी की. जबकि आप सरकार के कैबिनेट मंत्रियों के अलावा विधायकों और पार्षदों ने लोगों की सेवा की.स दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली समेत सभी देशवासियों को अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए बधाई दी. उन्होंने कहा कि अयोध्या में श्रीराम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में आयोजित हुए भंडारों में शामिल हुआ. अयोध्या में बहुत ज्यादा वीआईपी के आवागमन के कारण हम लोग वहां नहीं जा पाए, लेकिन हम अपने-अपने तरीके से प्रभु श्रीराम की भक्ति कर रहे हैं

रामायण पाठ और कीर्तन में हिस्सा

अरविंद केजरीवाल सबसे पहले नई दिल्ली विधानसभा स्थित उद्यान मार्ग पहुंचे. यहां उन्होंने रामायण पाठ और कीर्तन में हिस्सा लिया. इसके बाद भंडारे का प्रसाद ग्रहण कर पंचकुइयां रोड स्थित आरके आश्रम मार्ग मेट्रो स्टेशन पहुंचे. यहां सीएम केजरीवाल मेट्रो स्टेशन के पास स्थित प्राचीन सन्यास आश्रम शिव हनुमान मंदिर ट्रस्ट की ओर से आयोजित सुंदरकांड पाठ कार्यक्रम में शामिल हुए और सुंदरकांड पाठ सुनने के बाद प्रसाद लिया.

सीएम अरविंद केजरीवाल ने सभी रामभक्तों को बधाई देते हुए कहा कि पिछले दिनों हम लोगों ने दिल्ली के कई इलाकों में सुंदरकांड का पाठ कराया था. रोहिणी में आयोजित सुंदरकांड पाठ कार्यक्रम में मैं पत्नी के साथ गया था. आम आदमी पार्टी ने तय किया है कि अब हर महीने के पहले मंगलवार को पूरी दिल्ली में जगह-जगह सुंदरकांड का पाठ कराया जाएगा.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *