JANTA KI PUKAR

बदायूँः 22 दिसम्बर। शुक्रवार को कलेक्ट्रेट स्थित सभाकक्ष में मुख्य विकास अधिकारी/प्रभारी जिलाधिकारी केशव कुमार की अध्यक्षता में जिला स्वच्छता समिति की बैठक आयोजित की गई। सीडीओ ने निर्देश दिए कि व्यक्तिगत शौचालय की अवशेष किश्त शीघ्र ही लाभार्थियों के खातों में अवमुक्त की जाए। स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण फेज-2 पोर्टल पर प्राप्त ऑनलाइन आवेदनों को शीघ्र ही पात्रता के आधार पर अप्रूव व अपात्रता की कार्यवाही की जाए।
उन्होने निर्देश दिए कि रेट्रोफिटिंग सर्वे को शीघ्र ही पूर्ण किया जाए। वर्ष 2023-24 में ओ0डी0एफ0 प्लस हेतु चयनित 539 ग्राम पंचायतों के सापेक्ष 196 ग्राम पंचायतों का व्यय शून्य है जिसमें सम्बन्धित कन्सल्टिंग इंजीनियरों को समिति द्वारा निर्देशित किया गया कि आवंटित ग्राम पंचायतों में शीघ्र ही कार्य पूर्ण कराएँ एवं पूर्ण हो चुके कार्यों की एम0बी0 ग्राम पंचायत को उपलब्ध कराये, जिससे ग्राम पंचायत द्वारा ससमय भुगतान किया जा सके। उक्त के अतिरिक्त विकास खण्ड-समरेर में ओ0डी0एफ0 प्लस ग्रामों में कार्यों की अपेक्षित प्रगति न होने के कारण सम्बन्धित कन्सल्टिंग इंजीनियर सत्यभान को निर्देशित किया गया कि 15 दिवस में  ग्राम पंचायतों में कार्य पूर्ण कराते हुए सम्बन्धित कार्यों की एम0बी0 ग्राम पंचायत को उपलब्ध कराएँ। साथ ही सचिव, जिला स्वच्छता समिति को निर्देशित किया गया कि सत्यभान द्वारा यदि 15 दिवस में अपेक्षित प्रगति नहीं की जाती है तो इस सम्बन्ध में सत्यभान के विरुद्ध विभागीय कार्यवाही की जाए।
विकास खंड दातागंज की ग्राम पंचायत गनगोला में नवीन प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट यूनिट स्थापित करने के सम्बन्ध में समिति द्वारा निर्देशित किया गया कि प्रस्तावित भूमि के सभी प्रपत्र को जाँच लिया जाय कि चयनित भूमि सुरक्षित श्रेणी की न हो, तदोपरान्त कार्यवाही की जाए। विकास खण्ड-उझानी की ग्राम पंचायत-मलिकपुर में निर्माणाधीन बायोगैस प्लांट के सम्बन्ध में समिति द्वारा सचिव, जिला स्वच्छता समिति को निर्देशित किया गया कि फर्म से समन्वय स्थापित करते हुए ससमय कार्य पूर्ण कराते हुए प्लांट को क्रियाशील कराए। गोर्बधन योजना की पूर्ण समीक्षा हेतु प्रथक से बैठक का आयोजन किया जाए।
गंगा एक्शन प्लान योजनान्तार्गत चयनित 67 ग्रामों के सापेक्ष 66 ग्रामों को एवं जनपद के कुल मॉडल किये जाने वाले ग्रामों के लक्ष्य 884 मॉडल के सापेक्ष 258 ग्रामों को मॉडल घोषित किया जा चुका है। सीडीओ निर्देश दिए कि घोषित किये जा चुके मॉडल ग्रामों के सत्यापन हेतु कमेटी गठित  करते हुए सत्यापन करा लिया जाए।
इस अवसर पर जिला पंचायत राज अधिकारी श्रेया मिश्रा एवं समिति के समस्त सदस्यगण उपस्थित रहे।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *