JANTA KI PUKAR

बदायूँः 21 अक्टूबर। जिलाधिकारी मनोज कुमार ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ0 ओपी सिंह के साथ सम्पूर्ण समाधान दिवस तहसील दातागंज में जन शिकायतें सुनी। डीएम ने अधिकारियों को  निर्देश दिए कि संपूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त शिकायतों को गुणवत्तापूर्ण समयबद्ध निस्तारित करें। शिकायत निस्तारण से शिकायतकर्ता संतुष्ट भी होना चाहिए। शिकायतकर्ता को शिकायत लेकर पुन: बार-बार दौड़ना ना पड़े। शिकायतों को प्राथमिकता पर शासन की मंशानुसार समय सीमा के अंदर निस्तारण करें। प्राप्त समस्याओं को अधिकारी मौके पर जाकर निस्तारण कराएं। जमीन संबंधी शि

कायतों में राजस्व तथा पुलिस की संयुक्त टीम गठित कर मौके पर जाकर निस्तारण कराएं। जमीन संबंधी मामलों में त्वरित कार्रवाई सुनिश्चित की जाए। संपूर्ण समाधान दिवस में कुल 46 शिकायतें प्राप्त हुईं जिसमें से मौके पर 03 शिकायतों का निस्तारण किया गया। उन्होंने शेष शिकायतों को संबंधित अधिकारियों को गुणवत्ता परख गंभीरता से निस्तारण करने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि संपूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त शिकायतों को निस्तारण में किसी प्रकार के लापरवाही को क्षम्य नहीं किया जाएगा।
जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने तहसील दातागंज परिसर में विभिन्न विभागों द्वारा जन कल्याणकारी योजनाओं पर आधारित स्टालों का फीता काटकर उद्घाटन कर अवलोकन किया और जानकारी ली। विभिन्न विभागों द्वारा जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी लोगों को दी गई।
दोनों वरिष्ठ अधिकारियों  ने समेकित बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं की गोद भराई रस्म एवं 6 माह से अधिक उम्र के बच्चों को अन्नप्राशन कराया। जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि बच्चों में पोषाहार स्टार में सुधार एनीमिया से बचाव संचारी रोगों से बचाव आदि हिट कार्यक्रमों के अंतर्गत सभी आंगनबाड़ी केदो पर आयोजित किया जा रहे हैं।
डीएम एसएसपी ने संपूर्ण समाधान दिवस में 11 लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड एवं स्वामित्व योजना अंतर्गत 13 व्यक्तियों को घरौनी प्रमाण पत्र वितरित किए।
इस अवसर पर  उप जिलाधिकारी दातागंज धर्मेंद्र कुमार सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 प्रदीप कुमार वार्ष्णेय पीडी डीआरडीए सहित आदि जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

इच्छुक महानुभाव 15 नवम्बर 2023 तक कर सकते हैं आवेदन
बदायूं: 21 अक्टूबर। मल्लिका-ए-बजल बेगत अख्तर की स्मृति में दादरा, ठुमरी, गजल विधाओ में ऐसे प्रतिभावन गायक जिनकी आयु 40 वर्ष से कम न हो को बेगम अख्तर पुरस्कार से सम्मानित किये जाने के लिये पात्र महानुभावो का नामाकंन संस्कृति विभाग उत्तर प्रदेश लखनऊ द्वारा मांगा गया हैं।
निदेशक संस्कृति निदेशालय उत्तर प्रदेश, द्वारा निर्धारित पात्रता के अनुसार बेगम अख्तर पुरस्कार 2023-24 के लिये कलाकार उत्तर प्रदेश का मूल निवासी अथवा उसकी कर्मभूमि प्रदेश होना चाहिए, कलाकार की आयु 40 वर्ष से कम नही होनी चाहिए, कलाकार को अपनी प्रतिभा की दीर्घ साधना एवं श्रेष्ठ उपलब्धि के भरसक निर्विवाद के मानदण्डों के आधार पर राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त होनी चाहिये, यह पुरस्कार कलाकार के क्षेत्र में सम्पूर्ण उपलब्धियों को आधार पर प्रदान किया जायेगा, न कि किसी एक विशिष्ट संरचना के लिये। बेगम अख्तर पुरस्कार का उद्देश्य दादरा, ठुमरी के क्षेत्र में विशेष प्रतिभावान विशिष्ट गायक हो, जिसने अपने व्यक्तिगत प्रयासों से उत्कृष्ठ आयाम स्थापित किया हो तथा राष्ट्रीय स्तर पर गौरान्वित किया हो, को सम्मानित करना है। पुरस्कार सम्बन्धी नियमावली एवं निर्धारित प्रारूप आवेदन पत्र संस्कृति विभाग उ0प्र0 की बेबसाइट http://upculture.up.nic.in  पर देखा जा सकता है। उपरोक्त आवेदन पत्र निर्धारित पर जमा करने अंतिम तिथि दिनांक 15 नवम्बर 2023 के सायं 05 बजे  तक निदेशक संस्कृति निदेशालय, उ0प्र0, जवाहर भवन नवम तल लखनऊ-226001 के कार्यालय में उपलब्ध करायें जायें।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *