DM BADAUN
JANTA KI PUKAR
ओएमआर शीट की तृतीय प्रति ले जा सकेंगे अभ्यर्थी, बायोमेट्रिक से होगी अटेंडेंस
परीक्षा समय से आधा घंटे पूर्व तक ही केंद्र में प्रवेश
डबल सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में होगी परीक्षा, मोबाइल व इलैक्ट्रॉनिक गैजेट्स पर रहेगा प्रतिबंध
बदायूँ : 26 अक्टूबर। जिलाधिकारी मनोज कुमार ने प्रारंभिक अर्हता परीक्षा 2023 की तैयारियों की समीक्षा करते हुए केंद्र व्यवस्थापकों, स्टैटिक व सेक्टर मजिस्ट्रेट से कहा कि वह पारदर्शी, निष्पक्ष, निर्विघ्न, सकुशल व सुचितापूर्ण ढंग से परीक्षा को संपन्न कराएं। उन्होंने बताया कि परीक्षा केंद्र में बायोमेट्रिक के जरिए अभ्यर्थियों की उपस्थिति होगी। केंद्र में मोबाइल, इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स आदि ले जाना वर्जित होगा तथा परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षा समय प्रारम्भ होने से आधा घंटे पूर्व तक ही प्रवेश अनुमन्य होगा।
ओएमआर शीट की तृतीय प्रति ले जा सकेंगे अभ्यर्थी, बायोमेट्रिक से होगी अटेंडेंस

गुरुवार को कलेक्ट्रेट स्थित अटल बिहारी वाजपेयी सभागार में जिलाधिकारी मनोज कुमार ने आगामी 28 व 29 अक्टूबर को 19 परीक्षा केंद्रो पर आयोजित होने वाली उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की प्रारम्भिक आर्हता परीक्षा (पीईटी) 2023 के सम्बंध में आहूत बैठक व प्रशिक्षण में कहा कि प्रत्येक परीक्षा केंद्र के प्रत्येक कक्ष में वॉइस रिकॉर्डर व डीवीआर के साथ डबल सीसीटीवी कैमरा होगा। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा जनपद के लिए मुदस्सिर हुसैन को पर्यवेक्षक बनाया गया है।


डीएम ने कहा कि उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के द्वारा दिए गए दायित्व और दिशा निर्देशों का शत प्रतिशत अनुपालन सभी केंद्र व्यवस्थापक, सेक्टर व स्टेटिक मजिस्ट्रेट करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा की कार्यदायी संस्था सी भी अपने दिए गए दायित्व का ठीक प्रकार से निर्वहन करें। उन्होंने शौचालय की चेकिंग भी अच्छी प्रकार से करने के लिए केंद्र व्यवस्थापकों से कहा।
उन्होंने कहा कि सभी सेक्टर, स्टेटिक मजिस्ट्रेट अपने केंद्रां का आवश्यक रूप से निरीक्षण कर वहां सभी व्यवस्थाओं को कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने बताया कि हर केंद्र पर पुलिस विभाग द्वारा एक-एक थाना प्रभारी की भी तैनाती की गई
परीक्षा समय से आधा घंटे पूर्व तक ही केंद्र में प्रवेश
अपर जिलाधिकारी प्रशासन वी0के0 सिंह ने बताया कि जनपद में 19 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं तथा 7 सेक्टर मजिस्ट्रेट नामित किए गए हैं, इसके अतिरिक्त 2 सेक्टर में आरक्षित रखे गए हैं। इसी प्रकार परीक्षा केंद्रों पर के लिए 24 स्टेटिक मजिस्ट्रेट बनाए गए हैं तथा पांच आरक्षित रखे गए हैं। प्रत्येक पाली में 8232 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। 28 व 29 अक्टूबर को आयोजित होने वाली दो-दो पालियों में अर्थात चार पालियों में कुल 32928 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे।
डबल सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में होगी परीक्षा, मोबाइल व इलैक्ट्रॉनिक गैजेट्स पर रहेगा प्रतिबंध
जिला विद्यालय निरीक्षक प्रवेश कुमार ने बताया कि कक्ष निरीक्षकों का भी प्रशिक्षण कार्यक्रम केदो पर आयोजित किया जाएगा जो की 27 अक्टूबर को आयोजित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि अभ्यर्थियों की तलाशी के लिए पुरुष व महिला की अध्यापक व कार्मिकों की तैनाती की जाएगी। महिला अभ्यर्थियों की तलाशी महिला कार्मिक व अध्यापक द्वारा ही ली जाएगी।
प्रशिक्षण देते हुए राजकीय इंटर कॉलेज के अध्यापक संदीप भारती ने बताया कि ओएमआर की शीट की तृतीय प्रति अभ्यर्थी अपने साथ ले जा सकेंगे।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन वी0के0 सिंह, नगर मजिस्ट्रेट रामजी लाल, जिला विद्या निरीक्षक प्रवेश कुमार, सभी उप जिलाधिकारी सहित अन्य अधिकारी, केंद्र व्यवस्थापक, सेक्टर व स्टेटिक मजिस्ट्रेट उपस्थित रहे।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *