JANTA KI PUKAR

बदायूं। जनपद के चर्चित मामले में कोर्ट नें अब अगली सुनवाई की तारीख 29 फ़रवरी नियत हुई है। चुंकि मामला सिविल जज सीनियर डिवीजन/एफसीटी कोर्ट के न्यायाधीश मनीष कुमार तृतीय की कोर्ट में विचाराधीन है।

संवादाता आकाश सक्सेना

अवगत कराते चले कि नीलकंठ महादेव-जामा मस्जिद मामले की सुनवाई में कोर्ट में इस मामले की सुनवाई बीते मंगलवार को सर्वे कमीशन के प्रार्थना पत्र पर बहस हुई। इसी बीच जामा मस्जिद पक्ष की ओर से आपत्ति जताते हुये इस बिंदु पर पुनः बहस के लिए समय मांगा गया।

वहीं सिविल जज सीनियर डिवीजन/एफसीटी कोर्ट में मंगलवार को वादी पक्ष के वकील नंदकिशोर गुप्ता व वेदप्रकाश साहू ने अवगत कराया कि मंगलवार को सर्वे कमीशन के प्रार्थना
पत्र पर बहस हो गई थी। जिसके बाद जामा मस्जिद पक्ष की ओर से इंत्माजिया कमेट के अधिवक्ता असरार अहमद की तरफ से प्रार्थना पत्र देते हुए पांच अप्रैल 2023 को पारित आदेश के संबंध में पक्ष रखा गया । इसके साथ ही सर्वे कमीशन के प्रार्थना पत्र के निस्तारण से पूर्व कुछ बिंदुओं पर दोबारा बहस करने का समय मांगा। जिस पर कोर्ट ने समय प्रदान करते हुए मामले की सुनवाई 29 फरवरी को नियत की।

वहीं विदित हो, अखिल भारत हिंदू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष मुकेश पटेल की ओर से सिविल जज सीनियर डिविजन की अदालत में याचिका दायर की गई थी। इसमें जामा मस्जिद शम्सी की जगह नीलकंठ महादेव मंदिर होने का दावा किया गया है जिसको लेकर मामला कोर्ट में चल रहा है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *